सरकार की प्राथमिकताओं में किसान कहां खड़ा है ?/-पूण्य प्रसून बाजपेयी

Posted on

देशभर के किसानों पर कर्ज 12,60,000 करोड़ और तीन बरस में उद्योगपतियों को रियायत 17,15,00,000 करोड़ उद्योगों को डायरेक्ट या इनटायरेक्ट टैक्स में…

Read More

प्रधानमंत्री जी! ये नरमुंड लिए किसान,कहीं नरमुंड ना बन जाएं ? /-अरविंद कुमार सिंह

सच तो यह है कि जो देश मेकइन इंडिया, स्टार्टअप, स्टैंडअप और उससे भी बढ़कर बुलेट ट्रेन का सपना देख रहा है और…

Read More

सुशासन की कमजोर कड़ी नौकरशाही/अरविंद जयतिलक

सुशासन से तात्पर्य राजनीतिक ईकाई को इस प्रकार शासन-सत्ता संचालित करना होता है कि वह बेहतर परिणाम दे। जनता की आकांक्षाओं की पूर्ति…

Read More

उत्तर प्रदेश: संघ की राजनीतिक प्रयोगशाला/ पुण्य प्रसून बाजपेयी

Posted on

स्ंघ, यूपी को सियासी प्रयोगशाला बनाकर उसे मथेगा। इसके संकेत तो अब साफ हैं, क्योंकि यूपी सिर्फ सबसे बड़ा सूबा भर नहीं है,…

Read More

स्याही फेंकने वाले प्रवक्ता बन रहे हैं और उससे लिखने वाले प्रोपेगेंडा कर रहे हैं /रवीश कुमार

Posted on

वरिष्ठ पत्रकार रवीश कुमार को पहले कुलदीप नैयर पत्रकारिता सम्मान से सम्मानित किया गया है. सम्मान समारोह में उन्होंने यह वक्तव्य दिया. ………………………………………………………………………………………………………………………………………

Read More

मोदी के घर अखिलेश सजाएंगे यूपी के विकास की झांकी

मुख्यमंत्री अखिलेश यादव गुजरात की राजधानी गांधीनगर पहुंचकर सूबे के विकास के लिए किए जा रहे कामों को गिनाएंगे। प्रवासी भारतीय दिवस समारोह…

Read More

दिल्ली का कुरूक्षेत्र करो या मरो-अमित राजपूत

Posted on

अमित राजपूत अण्णा आन्दोलन के भ्रष्टाचार विरोधी ऐतिहासिक आंदोलन की नींव पर खड़ी आम आदमी पार्टी ने अपने आरम्भ  में एक राजनैतिक दुंदुभी…

Read More